बच्चों को खिलाएंगे ये चीजें तो एग्जाम में हमेशा करेंगे अच्छा परफॉम

0

अक्सर एग्जाम का नाम सुनते ही बच्चों की तबीयत बिगड़ने लगती है, डर के कारण घबराहट भी होने लगती है. ऐसे में बच्चों की सेहत का ख्याल रखना बेहद कठिन हो जाता है. तो आइए आज हम आपको बताते हैं कि एग्जाम टाइम पर बच्चों की डाइट में क्या-क्या शामिल करें और क्या न करें जिससे कि उनकी सेहत और उनका दिमाग दोनों तंदरुस्त रहे.

उपमा:
सुबह के ब्रेकफास्ट में बच्चों को उपमा दें. उपमा लाइट और हेल्दी होता है. लाइट होने के कारण इसे खाने के बाद भी बच्चे हल्का महसूस करते हैं जिससे उन्हें पढ़ाई करने में आसानी होती है. उपमा के अलावा बच्चों को खिचड़ी या इडली भी दे सकते हैं. ये भी लाइट फुड होते हैं.

हरी सब्जियां:

खाने में ताजी सब्जियां का इस्तमाल करें. खासकर हरी सब्जियां का उपयोग करें जैसे मैथी ,पालक, पत्तागोभी आदि. इनके अलावा गाजर, कद्दू भी डाइट में शामिल करें. ये बच्चों की रोग प्रतिरोधक शक्ति को बढ़ाएंगी और बीमार होने से भी बचाएंगी .
 

ब्राउन राइस:
एग्जाम टाइम में बच्चों को व्हाइट राइस की जहग ब्राउन राइस खिलाएं. व्हाइट राइस में स्टार्च की मात्रा ज्यादा होती है जिससे बच्चों में आल्सय बढ़ता है.

नींबू पानी:

एग्जाम के समय बच्चे ज्यादा देर तक पढ़ाई करते हैं ऐसे में ध्यान रखें की बच्चे के शरीर में पानी की कमी न हो और उन्हें नींबू पानी जरूर पिलाएं. नींबू पानी से शरीर में एनर्जी बनी रहेगी और मुहं का टेस्ट भी बदल जाएगा . जितना ज्यादा पानी पिएंगे, उतना ही उनका कंसंट्रेशन बढ़ेगा. नींबू पानी के अलवा बच्चों को जूस, ग्रीन टी या छाछ पिलाएं. कोल्ड ड्रिंक्स के सेवन से बिल्कुल दूर रखें .
 

फ्रूट्स:
फ्रूट्स सेहत के लिए बहुत लाभदायक होते है. एग्जाम टाइम में बच्चों को थोड़ी-थोड़ी देर में कुछ न कुछ खिलाते रहें. खाने में ज्यादा देर का गैप न करें. इसका सबसे अच्छा विकल्प है फ्रूट्स. थोड़ी-थोड़ी देर में बच्चों को फ्रूट्स दें. फ्रूट्स में , सेब, अनार, अंगूर दें. अंगूर से शरीर को पानी मिलेगा. खट्टे फ्रूट्स न दें जिससे कि उनकी तबीयत बिगड़े.

जंक फूड का सेवन नहीं करें:  

एग्जाम टाइम पर जंक फूड्स से बच्चों को रखें दूर. बाहर के फूड्स जैसे बर्गर, पिज्जा, चाट आदि से बच्चों को दूर रखना ही बेहतर है.
 
   

अंडे:  
बच्चों की डाइट में प्रोटीन की मात्रा बढ़ाएं. अंडे में काफी मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है. अंडे के अलावा पोहा, इडली, डोसा, ढोकला भी दे सकते हैं .ये चीजें खून और ब्रेन में अमिनो एसिड की मात्रा बढ़ाती हैं जिससे बच्चों का दिमाग तंदुरुस्त रहता है.
 
ओमेगा 3 फैटी एसिड की चीजें दें:  

ओमेगा 3 फैटी एसिड सबसे जादा नॉन वेज में होता है जैसे फिश. फिश में ओमेगा 3 फैटी एसिड की मात्रा काफी पाई जाती है. ओमेगा 3 फैटी एसिड मेमोरी बढ़ाने में काफी मदद करता है. अगर आप वेजिटेरियन हैं तो खाने में अलसी के बीज, कद्दू के बीज, तिल, सोयाबीन का तेल आदि शामिल करें.
 

मीठा ज्यादा न खिलाएं:   
मीठा ज्यादा खाने से भूख मिटती नहीं बल्कि थोड़ी-थोड़ी देर में और लगने लगती है, जिससे कि बच्चों के शरीर में आलस बढ़ता है और उन्हें नींद आती है.

चाय से रखें दूर:

एग्जाम टाइम में बच्चों को चाय, कॅाफी से दूर रखें. कैफीन होने की वजह से इन चीजों के सेवन से उन्हें नींद आएगी और एग्जाम टाइम में पूरी नींद होना बेहद जरूरी है.

2 views

दुनिया में कम ही लोग कुछ मज़ेदार पढ़ने के शौक़ीन हैं। आप भी पढ़ें। हमारे Facebook Page को Like करें – www.facebook.com/iamfeedy

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Contact

CONTACT US


Social Contacts



Newsletter