जब किरण मोरे को चिढ़ाने के लिए मेढक की तरह कूदे थे जावेद मियांदाद

0

किरण मोरे को चिढ़ाने के लिए जावेद मियांदाद की मेढक कूद को आज 27 साल हो गए. 4 मार्च को भारत-पाकिस्तान के बीच 1992 के वर्ल्ड कप मैच के दौरान मोरे-मियांदाद का ‘झगड़ा’ आज भी क्रिकेट फैंस को याद है. उस मैच में मियांदाद ने ‘मशहूर मेढक कूद’ लगाई थी.

 

आखिर क्या हुआ था उस मैच में?

सिडनी में हुए मैच में किरण मोरे ने मियांदाद के खिलाफ बार-बार अपील क्या की, मियांदाद को गुस्सा आ गया. उन्होंने सचिन तेंदुलकर के उस ओवर में मिड ऑफ पर शॉट लगाया और रन के लिए तेजी से दौड़ पड़े, लेकिन खतरे को भांपते हुए क्रीज में लौट गए. इस बीच आए थ्रो पर मोरे ने बेल्स उड़ाई, तो मियांदाद आपा खो बैठे और विकेट के आगे मेढक कूद लगाई. जिससे दुनियाभर के क्रिकेट प्रशंसक सन्न रह गए. हलांकि मियांदाद पाकिस्तान को वह मैच जिता नहीं पाए. भारत ने वह मैच 43 रनों से जीत लिया.

 

पाकिस्तान को हर बार मिली है हार

दरअसल, भारत-पाकिस्तान के बीच वनडे वर्ल्ड कप में वह पहली भिड़ंत थी. दोनों के बीच वर्ल्ड कप में अब तक छह मुकाबले हो चुके हैं और सभी में भारत की जीत हुई है. आंकड़े भारत के पक्ष में हैं, लेकिन यह कहना मुश्किल होता है कि मैच कौन जीतेगा. जब भी इन दोनों चिर प्रतिद्वंद्वियों के बीच मुकाबला होता है, तो मैदान पर खिलाड़ियों के बीच नोक झोंक खूब सुर्खियां बटोरती हैं.

 

इस बार 16 जून को भारत-पाक मैच

इस बार 2019 वर्ल्ड कप में भारत को अपने लीग मुकाबले में मैनचेस्टर में 16 जून को पाकिस्तान से भिड़ना है. पुलवामा हमले के बाद दोनों देशों के बीच बढ़े राजनयिक तनाव के कारण इस मैच के बहिष्कार की मांग की जा रही है. भारत क्रिकेट के कुछ बड़े नामों ने यह मांग की है, जिसमें हरभजन सिंह और सौरव गांगुली भी शामिल हैं.

 

ICC ने ठुकराई PAK से संबंध खत्म करने की मांग

उधर, अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने ‘आतंकवाद उत्पन्न’ करने वाले देशों से संबंध तोड़ने के बीसीसीआई के आग्रह को ठुकराते हुए कहा कि इस तरह के मामलों में आईसीसी की कोई भूमिका नहीं है. पुलवामा आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवानों की शहादत के बाद बीसीसीआई ने आईसीसी को पत्र लिखकर वैश्विक संस्था और उसके सदस्य देशों से आतंकियों को शरण देने वाले देशों से संबंध तोड़ने की अपील की थी.


2 views

दुनिया में कम ही लोग कुछ मज़ेदार पढ़ने के शौक़ीन हैं। आप भी पढ़ें। हमारे Facebook Page को Like करें – www.facebook.com/iamfeedy

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Contact

CONTACT US


Social Contacts



Newsletter