करोड़ों में बिकने वाले प्लेयर्स ने अपनी IPL टीमों को क्या दिया?

416


IPL2020 खत्म होने वाला है. हर बार की तरह इस बार भी इस टूर्नामेंट ने कई कमाल की यादें दी. कई प्लेयर्स धूमकेतु की तरह आए और छा गए. अपने प्रदर्शन से तमाम उम्मीदें जगा दीं. तो वहीं कुछ फ्लॉप भी रहे.

फ्लॉप और हिट दोनों लिस्ट कई ऐसे नाम रहे जिन्हें खुद से जोड़ने के लिए टीमों ने खूब रकम खर्च की थी. इस आर्टिकल में हम बात करेंगे IPL2020 के सबसे महंगे फ्लॉप प्लेयर्स की.

 

# आरोन फिंच

लिस्ट का पहला नाम आरोन फिंच, ऑस्ट्रेलिया के कप्तान. डीविलियर्स और कोहली पर लोड कम करने के लिए बैंगलोर ने इस बार आरोन फिंच पर दांव लगाया. टीम ने सोचा होगा कि अनुभवी फिंच के आने से टीम का टॉप ऑर्डर और मजबूत हो जाएगा. कोहली तीसरे नंबर पर बैटिंग करेंगे तो चौथे नंबर पर डीविलियर्स आएंगे और ये दोनों साथ मिलकर कमाल करेंगे.

लेकिन इसके लिए जरूरी था कि फिंच अच्छी बैटिंग करें. फिंच से यह हो ना पाया. 4.40 करोड़ में खरीदे गए फिंच इस सीजन कुल 268 रन ही बना पाए. अब हम वो गणित नहीं बताएंगे कि उनका एक रन कितने लाख का बना, वो आप लोग देखें.

.

 

हम ये जरूर बताएंगे कि फिंच ने इस सीजन 12 पारियां खेली. इन पारियों में उनका हाईएस्ट स्कोर रहा, 52 रन. फिंच ने इस सीजन 22.33 की ऐवरेज और 111.20 की स्ट्राइक रेट से रन बनाए. हालांकि आंकड़े देखेंगे तो वह इस सीजन RCB के लिए रन बनाने वालों की लिस्ट में चौथे नंबर पर दिखेंगे.

उनसे ज्यादा रन सिर्फ देवदत्त पडिकल, विराट कोहली और एबी डीविलियर्स ने बनाए. इन तीनों ने 450+ रन बनाए हैं. और जाहिर है कि टीम का बड़ा स्टार होने के नाते फिंच को इन चारों से इतना पीछे नहीं होना चाहिए था.

# पीयूष चावला

चावला सालों से IPL खेल रहे हैं. कई टीमों के लिए खेल चुके पीयूष ने IPL में कई दफ़ा मैच विनिंग परफॉर्मेंस की है. उनके पिछले प्रदर्शन को देखते हुए ही चेन्नई सुपर किंग्स ने उन्हें 6.75 करोड़ रुपये में खरीदा. हालांकि उन्हें खरीदने के पीछे एक वजह यह भी थी कि चेन्नई ने पूरी टीम चेपॉक को ध्यान में रखकर बनाई थी. ऐसे में उन्हें पीयूष से काफी उम्मीदें थीं. लेकिन कोरोना के चलते टूर्नामेंट UAE में शिफ्ट हो गया.

चावला नई कंडीशंस में ढलने में नाकाम रहे. इस सीजन उन्हें सिर्फ सात मैच ही खेलने को मिले. इन मैचों में कई बार वह अपने कोटे के पूरे चार ओवर भी नहीं फेंक पाए. IPL2020 के सात मैचों में चावला ने 21 ओवर फेंके और उन्हें सिर्फ छह विकेट ही मिले. इस सीजन चावला का बेस्ट रहा 33 रन देकर दो विकेट. इस सीजन उनका ऐवरेज 31.83 और स्ट्राइक रेट 21 का रहा. चावला ने इस बार IPL में नौ से ज्यादा की इकॉनमी से रन लुटाए.

 

# शेल्डन कॉट्रेल

IPL2020 ऑक्शन से ठीक पहले शेल्डन कॉट्रेल और विराट कोहली के सेलिब्रेशन ने खूब सुर्खियां बटोरी थीं. कोहली को बोल्ड कर कॉट्रेल ने अपना सेलिब्रेशन किया तो कोहली भी बदला लेने में पीछे नहीं रहे. इसके बाद हुई नीलामी. 50 लाख की बेस प्राइज वाले कॉट्रेल के लिए खूब बोलियां लगीं. अंत में वह 8.5 करोड़ में किंग्स इलेवन पंजाब से जुड़े.

पंजाब को उम्मीद थी कि कॉट्रेल और शमी की जोड़ी कमाल कर देगी. लेकिन ऐसा हो नहीं पाया. कॉट्रेल को बल्लेबाजों ने मनचाहे अंदाज में धुना. हालात ऐसे हो गए कि वह इस सीजन सिर्फ छह मैच ही खेल पाए. इन छह मैचों में भी कई बार वह अपने कोटे के पूरे ओवर नहीं फेंक पाए.

 

 

कॉट्रेल ने 6 मैचों में कुल 20 ओवर बोलिंग की. इन ओवर्स में सिर्फ छह विकेट लेने वाले कॉट्रेल की इकॉनमी 8.80 की रही. जबकि उनका ऐवरेज 29.33 और स्ट्राइक रेट 20 का रहा. अगर आपको ना याद हो तो जान लें- राहुल तेवतिया ने एक ही ओवर में पांच छक्के कॉट्रेल को ही मारे थे.

 

# ग्लेन मैक्सवेल

मैक्सवेल इस सीजन के सबसे बड़े फ्लॉप कहे जा सकते हैं. पंजाब ने उन्हें 14 में से 13 मैचों में मौका दिया. 11 बार उन्हें बैटिंग भी मिली. लेकिन मैक्सी का बल्ला नहीं चला तो नहीं चला. इस सीजन मैक्सवेल एक भी छक्का नहीं मार सके.

11 पारियों में सिर्फ 108 रन बना पाए मैक्सवेल का स्ट्राइक रेट 101.88 का रहा. पंजाब की टीम ने हरसंभव कोशिश कर ली लेकिन मैक्सवेल इस सीजन पूरी तरह से फ्लॉप रहे. 10.75 करोड़ की बड़ी रकम में खरीदे गए मैक्सवेल से पंजाब ने बोलिंग भी कराई. सोचा गया कि बल्ले से ना सही, गेंद से ही कुछ हो जाए. लेकिन… नहीं हो पाया.

 

 

मैक्सवेल ने सात पारियों में कुल 21 ओवर बोलिंग की. इन ओवर्स में उन्होंने 8.04 की इकॉनमी से रन देकर तीन विकेट लिए.

 

# पैट कमिंस

अब बात बीते ऑक्शन की सबसे महंगी खरीद की. नाम होता है पैट कमिंस और खेलते हैं ऑस्ट्रेलिया से. कमिंस के लिए ऑक्शन में ऐसी मार मची कि देखते ही देखते वह IPL2020 के सबसे महंगे प्लेयर बन गए. कोलकाता नाइट राइडर्स ने उन्हें15.50 करोड़ में खरीदा. अब पैसा प्रधान समाज में इत्ती मुद्रा मिलेगी तो स्क्रुटनी भी तगड़ी होगी.

वही हो रही है. कमिंस ने पूरे 14 मैच खेले. 52 ओवर फेंके, लेकिन विकेट मिले सिर्फ 12. उन्होंने 2-4 मैचों में जरूर वर्ल्ड क्लास खेल दिखाया लेकिन ओवरऑल संतुष्ट नहीं कर पाए. कमिंस की इस सीजन की इकॉनमी 7.86 रही. ये अलग बात है कि पहले 10 मैचों में सिर्फ तीन विकेट लेने के बाद उन्होंने बेहतरीन वापसी की. आखिरी चार मैचों में उनके नाम नौ विकेट रहे.

 

 

हालांकि बल्ले से उन्होंने अपनी टीम की हेल्प करने की कोशिश जरूर की. कोलकाता के लिए सबसे ज्यादा रन बनाने वालों की लिस्ट में वह सुनील नरेन और आंद्रे रसल, दोनों से ऊपर रहे. कमिंस ने इस सीजन की 11 पारियों में 146 रन बनाए. इसमें एक हाफ सेंचुरी भी शामिल थी.




दुनिया में कम ही लोग कुछ मज़ेदार पढ़ने के शौक़ीन हैं। आप भी पढ़ें। हमारे Facebook Page को Like करें – www.facebook.com/iamfeedy

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Contact

CONTACT US


Social Contacts



Newsletter


You cannot copy content of this page