जन्नत का अहसास दिलाते हैं भारत के ये 10 प्राकृतिक नज़ारे

0

पृथ्वी कई चीज़ों से मिल कर बनी है. इन सब चीज़ों की बदौलत ही एक ऐसे ग्रह का निर्माण हो पाया है, जहां जीना संभव है. आज हमारे आस-पास एक दुनिया है, कहीं बड़ी-बड़ी इमारतें हैं तो कहीं खेतों की हरियाली और किसी जगह कारखानों से निकलता धुआं हैं तो किसी जगह शांति ने अपना बसेरा नीले आसमान के नीचे बिछा रखा है.

इस लेख में हम आपको प्रकृति के ऐसे नज़ारों से वाकिफ़ करवायेंगे जिनको देखने के बाद आपकी जुबां से निकलेगा कि जन्नत तो बस यहीं है.

 

1.रूपकुंड झील

उत्तराखंड के गढ़वाल में वादियों के नज़ारे आपको वशीभूत कर लेंगे. रूपकुंड झील के चारों और जमी बर्फ़ आपके मन को मोह लेने के लिए काफ़ी है. यहां कई सालों से लोगों के कंकाल भी मिलते आ रहे हैं. इसीलिए इसकी सुंदरता रहस्यमय भी हो जाती है.

 

 

2.पैंगोंग झील

ये झील लेह से लगभग 160 किलोमीटर की दूरी पर है. बाइकर्स के बीच में ये काफ़ी प्रचलित है. इस झील के आस-पास आपको याक और पारम्परिक पोशाक पहने घूमते स्थानीय लोग मिल जायेंगे. यहां जैसी शांति आपने कभी महसूस न की होगी.

 

 

3.खजर

इसे भारत का मिनी स्विट्ज़रलैंड भी कहा जाता है. ये हिमाचल प्रदेश में है. यहां का घना जंगल और पक्षियों की अलग-अलग आवाजें आपका दिन बना देंगी.

 

 

4.Dzukou Valley

इस घाटी पर सैर करने का मज़ा ही कुछ और है. जहां तक निगाहें जाती हैं, वहां तक हरियाली और उबड़-खाबड़ पहाड़ियों का ही दीदार होता है.

 

 

5.Nohkalikai Falls

ये चेरापूंजी के पास ही है. 1100 फीट की ऊंचाई से गिरता पानी देखने के बाद नज़ारे देखने की तमन्ना को थोड़े पंख से लग जाते हैं. इसके नाम के पीछे भी एक इतिहास है. Nohkalikail, Ka-Likai नाम की महिला के नाम से पड़ा है. कुछ पारिवारिक कारणों के चलते इस महिला ने यहां के कूद कर अपनी जान दे दी थी.

 

 

6.Borra Caves

ये आंध्रप्रदेश में हैं. पहाड़ियों के बीच में बनी ये गुफ़ा काफ़ी पुरानी होने के बाद भी लोगों के लिए आश्चर्य का विषय बनी हुई हैं. ये अनाथागिरी की पहाड़ियों में स्थित हैं.

 

 

7.चादर झील

कश्मीर की गोद में है ये झील. यहां गर्मियों में एक नदी होती है लेकिन सर्द मौसम आते-आते उस नदी पर बर्फ़ की एक मोटी चादर जम जाती है जिस पर लोग अपने कदम रख कर नदी पर चलने के अहसास को जीते हैं.

 

 

8.अरुणाचल प्रदेश की घाटियां

ईटानगर से लेकर बोमडिला तक पूरा प्रदेश घाटियों की ही छाया में बसा हुआ है. यहां आप जिधर भी नज़र दौड़ायेंगे पेड़ों की हरियाली और फूलों की सौंधी-सौंधी खुश्बू को महसूस करेंगे.

 

 

9.Athirapally Waterfalls

केरल के कोच्चि से लगभग 78 किलोमीटर की दूरी पर है ये वॉटर फॉल. जंगलों के बीच में और तमिलनाडु की ओर जाते हुए रास्ते में आपको हाथी मिलेंगे ओर ये झरना भी.

 

 

10.Marble Rocks

झील के बीच में आपकी कश्ती और चारों ओर सीना ताने खड़ी पहाड़ियां देखने का बाद आपका मन कैसा करेगा? ये तो आपको वहां जा कर ही महसूस करना होगा. ये मध्यप्रदेश में है.

 

 

दुनिया में कम ही लोग कुछ मज़ेदार पढ़ने के शौक़ीन हैं। आप भी पढ़ें। हमारे Facebook Page को Like करें –

7 views

दुनिया में कम ही लोग कुछ मज़ेदार पढ़ने के शौक़ीन हैं। आप भी पढ़ें। हमारे Facebook Page को Like करें – www.facebook.com/iamfeedy

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Contact

CONTACT US


Social Contacts



Newsletter